क्लीन हिमालया अभियान दल केदारनाथ को रवाना

क्लीन हिमालया अभियान दल केदारनाथ को रवाना

- in युवा
174
0


रूद्रप्रयाग। क्लीन हिमालया अभियान का 22 सदस्यीय दल केदारनाथ रवाना हो गया। अभियान दल केदारनाथ समेत विभिन्न पड़ावों पर स्वच्छता अभियान चलाएगा।

गुरूवार को जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल जिला कार्यालय कक्ष से क्लीन हिमालया अभियान के 22 सदस्यीय दल को शुभकामनायें देते हुए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। स्वच्छ भारत मिशन के तहत इंडियन माउंटनियरिंग फाउंडेशन, नई दिल्ली के दल द्वारा केदारनाथ धाम, वासुकीताल सहित यात्रा के समस्त पडावों में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा।

इंडियन माउंटनियरिंग फाउन्डेशन द्वारा ओएनजीसी के सहयोग से क्लीन हिमालया अभियान नाम से देश के विभिन्न स्थलों पर स्वच्छता अभियान चलाया जाता है। क्लीन हिमालया अभियान के 22 सदस्यीय दल द्वारा सफाई अभियान चलाकर सोनप्रयाग से वासुकीताल तक यत्र-तत्र पडे कूडे को एकत्रित कर नीचे लाकर पंचायत को हस्तगत किया जाएगा।

अभियान का नेतृत्व कर रहे टीम लीडर दिगम्बर सिंह पंवार ने बताया कि टीम के सदस्य द्वारा स्थानीय लोगों के साथ मिलकर गांव-गांव में स्वच्छता जागरूक कार्यक्रम व यात्रा पडावों से कूडा एकत्रित किया जाएगा। इसी पांच जुलाई को गौरीकुण्ड, छह जुलाई को जंगलचट्टी व भीमबली में, सात जुलाई को रामबाडा व छोटी लिनचैली में, आठ जुलाई को बडी लिनचैली व छानी कैम्प में सफाई अभियान चलाकर दल नौ जुलाई को केदारनाथ धाम पहुचेगा। नौ व 10 जुलाई को धाम में व 11 जुलाई को वासुकीताल मे वृहद स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा।

12 जुलाई से दल केदारनाथ धाम से नीचे वापिस गौरीकुण्ड की ओर एकत्रित कूडे को लेकर वापिस आएगा तथा कूडा नगर पंचायत गौरीकुण्ड को हस्तगत किया जाएगा। इसके साथ ही दल द्वारा आसपास के गांव के विद्यालयों में जाकर विद्यार्थियों व क्षेत्रीय जनता को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाएगा ।

टीम लीडर दिगम्बर सिंह पंवार ने बताया कि टीम के सभी सदस्य माउंटनियरिंग में दक्ष है। टीम लीडर द्वारा आतिथि तक 24 पर्वत शिखरों पर फतह हासिल की गई है। इस अवसर पर आईएएस प्रशिक्षु प्रतीक जैन, साहसिक खेल अधिकारी सुशील नौटियाल उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आदिधाम श्री बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद

श्री बदरीनाथ। आदिधाम श्री बदरीनाथ धाम के कपाट