शिक्षा मंत्री प्रकरण पर सरकार असहज

शिक्षा मंत्री प्रकरण पर सरकार असहज

Arvind-pandey-(2)

प्रदेश के शिक्षा मंत्री के प्रकरण पर प्रचंड बहुमत वाली सरकार असहज महसूस कर रही है। कारण सरकार शिक्षकों की नाराजगी का मतलब अच्छे से समझती है।

छात्रों के सामने शिक्षिका से गलत सवाल पूछकर हतोत्साहित करने का मामला शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के गले पड़ गया है। राजकीय शिक्षक संगठन इस मुददे को लेकर अक्रामक हो गया है। शिक्षा मंत्री से सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की बात होने लगी है।

शिक्षा मंत्री पांडे द्वारा इस संबंध में दी जा रही तमाम सफाई के बावजूद मामला तूल पकड़ता जा रहा है। यही वजह है कि इस प्रकरण पर प्रदेश की त्रिवेंद्र रावत सरकार असहज महसूस कर रही है। कारण सरकार शिक्षकों की नाराजगी का मतलब अच्छे से समझती है।

सरकार के स्तर से इस मामले को किसी तरह से समाप्त करने प्रयास शुरू हो रहे हैं। हालांकि शिक्षकों में इसकों लेकर नाराजगी बरकरार है। कर्मचारियों और शिक्षकों के साथ प्रदेश सरकार के लगातार बिगड़ रहे रिश्तों से भाजपा के कार्यकर्ता भी अब चिंता व्यक्त करने लगे हैं।

इसकी वजह ये है कि कार्यकर्ताओं को निकाय, त्रिस्तरी पंचायत चुनाव और 2019 में आम चुनाव के लिए वोट मांगने जाना है। वहां कार्यकर्ताओं को कर्मचारियों और शिक्षकों की नाराजगी को विभिन्न फ्रंटों पर फेस करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

फंसे लोग नहीं जा सकेंगे घर, 31 को प्रस्तावित छूट निरस्त

देहरादून। कोरोना की वजह से इम्पोज नेशनल वाइड