हरिद्वार जिले के परीक्षा केंद्रों पर ताबड़तोड़ छापे

हरिद्वार जिले के परीक्षा केंद्रों पर ताबड़तोड़ छापे

- in हरिद्वार
353
0

हरिद्वार। श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीपी ध्यानी के नेतृत्व में जिले के करीब दर्जन भर परीक्षा केंद्रों पर ताबड़तोड़ छापे मारे गए। अधिकांश में परीक्षा व्यवस्था में लापरवाही मिली। एक परीक्षा केंद्र को कुलपति ने तत्काल निरस्त कर दिया।

शनिवार को कुलपति प्रो. ध्यानी ने परीक्षाओं के औचक निरीक्षण को हरिद्वार जिले का रूख किया। यहां उन्हें हर केंद्र पर कुछ न कुछ खामियां मिली। कुछ केंद्रों पर व्यवस्थाएं प्रॉपर मिली तो उन्होंने सराहना भी की। भारतीय महाविद्यालय दयालपुर, धनौरी में उत्तर पुस्तिकाओं का लेखा जोखा प्रॉपर नहीं मिला।

महाविद्यालय के परिसर में आम के पेड लगाये गये हैं जिससे आकस्मिक निरीक्षण हेतु दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कुलपति द्वारा परीक्षा केन्द्र बदलने के दिये निर्देश अब सभी परीक्षायें होंगी आई0पी0एस0 कालेज, दयालपुर, धनौरी में होंगी। इसी प्रकार आईपीएस दयालपुर में भी उत्तर पुस्तिकाओं का लेखजोखा सही नहीं मिला।

हरिओम सरस्वती कालेज, धनौरी, राजकमल कालेज, बहदराबाद में करीब पांच हजार उत्तर पुस्तिकाएं बगैर प्रयोजन के मिली। अरोमा, अरिहंत और रूबराज कॉलेज का भी यही हाल मिला।

कुलपति ने कॉलेज से उत्तर पुस्तिकाओं का तीन साल का लेखा जोखा तलब किया।  एसबीएन कालेज,सुल्तानपुर में उत्तर पुस्तिकायें पैकिंग के वक्त कोई सक्षम अधिकारी नहीं मिला। इसका कोई संतोषजनक जवाब न मिलने से नाराज कुलपति ने कॉलेज में परीक्षाओं के लिए विश्वविद्यालय से पर्यवेक्षक की तैनाती की निर्देश दिए।

इसके अलावा कुछ कॉलेजों में व्यवस्थाएं प्रॉपर मिली तो कुलपति ने सराहना की और बेहतरी के लिए प्रोत्साहित किया। इसमें कुन्ती नमन कालेज, कोर इंस्टीट्यूट, एच0ई0सी0 कालेज, जगजीतपुर और फेरूपुर डिग्री कालेज, हरिद्वार शामिल हैं।

औचक निरीक्षण दल में कुलपति प्रो. ध्यानी के अलावा परीक्षा नियंत्रक आरएस चौहान, सुनील नौटियाल शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

फंसे लोग नहीं जा सकेंगे घर, 31 को प्रस्तावित छूट निरस्त

देहरादून। कोरोना की वजह से इम्पोज नेशनल वाइड