मेयर के प्रयास लाए रंग, शहर को मिलेगी निराश्रित गोवंश से मुक्ति

मेयर के प्रयास लाए रंग, शहर को मिलेगी निराश्रित गोवंश से मुक्ति

- in ऋषिकेश
726
0

ऋषिकेश। शहर को जल्द ही निराश्रित गोवंश से मुक्ति मिलेगी। इसके लिए मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं के स्तर से हुए प्रयासों रंग लाने लगे हैं।

आवारा पशु (निराश्रित गोवंश) तीर्थनगरी ऋषिकेश के लिए मुसीबत बन गए हैं। आए दिन इनकी वजह से दुर्घटनाएं हो रही हैं। इस समस्या का मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं के प्रयासों से अब काफी तक निदान होने जा रहा है।

मेयर के प्रयासों से श्री कृष्णायन देशी गोरक्षा एवं गोलोक धाम सेवा समिति शहर के करीब दो सौ निराश्रित गोवंश को गैंडीखाता स्थित गोशाला में रखने को तैयार हो गया। करवाचौथ के दिन मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं दिन भर इसी काम में लगी रही। इसका परिणाम सुखद रहा।

मेयर और निगम के अधिकारियों ने श्रीकृष्णायन देशी गोरक्षा एवं गोलोक धाम सेवा समिति के संस्थापाक अध्यक्ष स्वामी ईश्वर दास के साथ कई दौर की वार्ता की। वार्ता में तय हुआ कि नगर निगम दो सौ निराश्रित देशी नश्ल के गोवंश को गोशाला में रखवा सकता है।

गैंडीखाता तो पशुओं को निगम प्रशासन को पहुंचाना होगा। गोशाला के विस्तार के बाद समिति और गोवंश को भी स्वीकारेगा। इस मौके पर स्वामी आत्मानंद, ब्रहमचारी शंकर दास के अलावा सहायक नगर आयुक्त ऐलन दास, विनोद लाल, टीएस रमेश रावत, धीरेंद्र सेमवाल, प्रशांत कुकरेती, संतोष गुसाईं, हर्ष ग्वाड़ी आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: थैंक्यू केजरीवाल! दिल्ली में गढ़वाली, कुमाऊंनी, जौनसारी भाषा अकादमी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

…तो अवैध तरीके से काम कर रही श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति

देहरादून। श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति अवैध तरीके