अवमुक्त धनराशि का उपयोग न करने वाले विभाग के बजट में होगी कटौतीःउनियाल

अवमुक्त धनराशि का उपयोग न करने वाले विभाग के बजट में होगी कटौतीःउनियाल

- in पौड़ी
537
0

पौड़ी। जिला योजना से अवमुक्त धनराशि का तय समय में उपयोग न करने वाले विभागों के बजट में तीन गुनी कटौती की जाएगी। विकास योजनाओं को अवमुक्त बजट का समय से उपयोग सुनिश्चित हो।

ये कहना है प्रदेश के कृषि एवं कृषि विपणन, उद्यान एवं फलोद्योग व रेशम विकास तथा जनपद के प्रभारी मंत्री सुबोध उनियाल का। उनियाल बुधवार को जिला योजना समिति की बैठक में बोल रहे थे। 32 विभागों की ओर से वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए प्रस्तुत 66 करोड़ के विभागीय परिव्यय निर्धारित किया।

परिव्यय पर चर्चा करने के साथ ही प्रभारी मंत्री ने विभागों को चेतावनी देते हुए कहा कि जिला योजना से अवमुक्त धनराशि को तय समय पर व्यय न करने की दशा में अगली वित्तीय वर्ष की जिला योजना में संबंधित विभाग के प्रस्तुत परिव्यय पर तीन गुना कटौती होगी। बैठक में शिक्षा, पेयजल, कृषि तथा पर्यटन के बजट को बढ़ाने पर चर्चा की गई।

प्रभारी मंत्री उनियाल ने लोक निर्माण, राजकीय सिंचाई समेत कुछ बड़े विभागों की ओर से प्रस्तुत परिव्यय पर मामूली कटौती की वहीं शिक्षा, पेयजल तथा कृषि आदि मूलभूत सुविधाओं से जुड़े विभागों के बजट को प्राथमिकता दी। प्रभारी मंत्री ने कहा कि शिक्षा, पेयजल तथा कृषि ऐसे विभाग हैं जो कि मौजूदा तथा आने वाली पीढ़ियों के लिए अहम हैं। कहा कि इनके परिवेश को सुगम एवं सुव्यस्थित बनाने हेतु योजना में प्राथमिकता दी जाएगी।

प्रभारी मंत्री ने ग्रामीण क्षेत्रों में बंजर खेतों को उपयोग में लाने के लिए भी रणनीति बनाये जाने पर जोर दिया। उन्होंने विभागों को काश्तकारों के साथ कृषि से जोड़ने के लिए कहा। उन्होंने पर्यटन विभाग को साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने को कहा। प्रभारी मंत्री ने विभागों की लंबित देनदारी पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने हिदायत दी कि जिला सेक्टर को राज्य सेक्टर की भांति इस्तेमाल न किया जाए।

बैठक में जिलाधिकारी सुशील कुमार के आलावा योजना समिति के सदस्य जिला पंचायत अध्यक्ष दीप्ति रावत, क्षेत्रीय विधायक मुकेश कोली, लैंसडौन के विधायक महंत दिलीप रावत, प्रमुख संगठन के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र राणा, कोट ब्लाक प्रमुख सुनील लिंगवाल, ब्लाक प्रमुख शिवसिंह गुसांई, सुधा नेगी, सम्पत सिंह, देवकीनंदन शाह सीडीओ दीप्ति सिंह, डीडीओ वेद प्रकाश, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी निर्मल कुमार शाह आदि मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मेयर अनीता ममगाईं के प्रयासों की उत्तराखंड भर में हो रही सराहना

ऋषिकेश। एम्स में उत्तराखंड के लोगों के लिए