समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ एक अक्तूबर से

समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ एक अक्तूबर से

- in टिहरी, स्वास्थ्य
419
0

tehriनई टिहरी। एक से 15 अक्टूबर 2017 तक प्रस्तावित ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़े की टिहरी जिले में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अधिकारियों को इस कार्यक्रम को सफल बनाने में लगाया गया है।

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार के निर्देशों के तहत एक से 15 अक्तूबर तक ग्राम समृद्धि एवं स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जाना है। इसी के तहत जिला कार्यालय सभागार में आयोजित कार्यशाला की अध्यक्ष्ता करते हुए मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने इस पखवाडे को सफल बनाने के लिए विभिन्न विभागों के अधिकारियों को अपने दायित्वों का निर्वाहन/जिम्मेदारी से कार्य करने के निर्देश दिये।

इस पखवाडे के दौरान स्वच्छता ग्राम, कौशल पंजी तथा समृद्ध ग्राम से सम्बन्धित तीन एप को डाउनलोड करना होगा तथा ग्रामपंचायत स्तर पर पखवाडे के दौरान किये जा रहे विभिन्न क्रियाकलापों की फोटो को इसमें अपलोड करना हो होगा।
उन्होने इस सम्बन्ध में खण्ड विकास अधिकारियों के साथ-साथ जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्धारित कार्यक्रम के तहत रुपरेखा तैयार कर उसपर अमल करने के निर्देष दिये है।

यह पखवाडा जिला, विकासखण्ड के अलावा ग्राम पंचायत स्तर पर मनाया भी मनाया जना है इस हेतु प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर नामित अधिकारी/कर्मचारी के पास पाखवाडे से सम्बन्धित कार्यक्रम के दौरान ली गई फोटो को एप पर अपलोड करने के लिए एनराएड फोन का होना आवश्यक है।

न्होंने स्पष्ट निर्देश दिये कि ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित कार्यक्रम/गतिविधियों की फोटो को 4 बजे सांय तक अनिवार्य रुप से अपने उच्च स्तीय नोडल अधिकारी को भेजनी होगी ताकि इसे समय से शासन को भेजा जा सके। उन्होने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे 1 से 15 अक्टूबर तक संचालित विभिन्न कार्यक्रमों से सम्बन्धित बैनर अनिवार्य रुप से तैयार करें।

इस अवसर पर डीपीआरओ आरएस असवाल, डीपीओ विक्रम सिंह, जिला उद्यान अधिकारी डीके तिवारी, सहायक निदेशक दुग्ध अभिनव नौटियाल जिला परियोजना अधिकारी यतीष कुमार पुंडीर के अलावा समस्त खण्ड विकास अधिकारी व अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

श्राइन बोर्ड के विरोध में दून में गरजे तीर्थ पुरोहित हक हकूधारी

देहरादून। चारधाम समेत 51 मंदिरों के लिए श्राइन