क्या चल रहा है भगतदा के मन में

क्या चल रहा है भगतदा के मन में

bhagat-singh-koनैनीताल से भाजपा के सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के मन में क्या चल रहा है। उन्होंने अचानक राजनीति से सन्यास का ऐलान कर दिया और समय भी बता दिया।

भारत में आमतौर पर राजनीतिज्ञ सन्यास की घोषणा नहीं करते। उम्र, शरीर और जनता ही उनका सन्यास तय करती है। कुछ का सन्यास तुरूणाई में हो जाता है तो कुछ 75 साल के बाद भी कुर्सी की लाइन में होते हैं।

बहरहाल, नैनीताल से भाजपा सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने 2019 में सक्रिय राजनीति से सन्यास का ऐलान किया है। उनके इस ऐलान से हर कोई हैरान है। हालांकि इससे पूर्व भी कोश्यारी का मन राजनीति से खिन्न हो चुका है।

2007 में खंडूड़ी को मुख्यमंत्री बनाया गया तो कोश्यारी एकांतवास में चले गए थे। 2010 में उन्होंने राज्यसभा से ही इस्तीफा तक दे डाला था। अब एक बार कोश्यारी का राजनीति से खिन्न होने से तमाम सवाल खड़े हो रहे हैं।

सवाल उठ रहा है कि आखिर कोश्यारी के मन में चल क्या रहा है। भाजपा ने उनकी थाह लेने के प्रयास शुरू कर दिए हैं। बताया जा रहा है कि पार्टी में उम्रदराजो की हो रही उपेक्षा इसकी वजह है। केंद्र में कैबिनेट में जगह न मिलने और प्रदेश में सीएम की कुर्सी के लिए नाम भी न चलने से ऐसे हालात पैदा हुए है।

हालांकि पार्टी के प्रदेश स्तरीय नेता इस पर कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। राजनीतिक जानकारों की माने तो आने वाले दिनों में ऐसे और ऐलान भाजपा के पाले से सुने और देखे जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तराखंड में 24 घंटे में 1285 लोगों ने दी कोरोना को मात, 868 नए मामले

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में 1285