टिहरी जिले को 22 मोटर मार्गों की सौगात

टिहरी जिले को 22 मोटर मार्गों की सौगात

- in टिहरी, राजनीति
0

cm

नई टिहरी। प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जिले को 22 मोटर मार्गों की सौगात दी है। 24 करोड़ 53 लाख की लगात से बनने वाले उक्त मोटर मार्गों को मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया।

रविवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जिला मुख्यालय स्थित बहुद्देशीय भवन में आयोजित जनता मिलन कार्यक्रम में लोगों की समस्याएं सुनी और निदान का भरोस दिया। इस मौके पर उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा राज्य की बेहतरी के लिए हो रहे कार्यों को जनता के सामने रखा। उन्होंने टिहरी जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार को किए गए प्रयासों के बारे में बताया।

मुख्यमंत्री ने कहा की प्रधानमंत्री के द्वारा 2022 तक हर किसान की आय दोगुनी करनी हैं इस दिषा में सरकार कृषि उद्यान और जडी बूटी के लिये कलस्टर स्तर पर योजना बनायी जा रही हैं तथा स्वैच्छिक चकबन्दी के लिये यमुना घाटी के राना बीफ गॉंव की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री स्वंय उनके गॉंव और कृषि मंत्री के गॉंव से स्वैच्छिक चकबन्दी की शुरूआत की गयी है।

स्वैच्छिक चकबन्दी को ध्यान में रखते हुये पूरे उत्तराखण्ड में एक हजार पटवारीयों की भर्ती की जा रही हैं मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रत्येक न्याय पंचायत स्तर पर उत्पाद संग्रहण केन्द्र बना रही हैं जहॉं पर केवल 50 से 100 महिलाओं के लिये आर्थिकी केन्द्र बनाये जा रहें हैं।

जनता मिलन कार्यक्रम के अन्तर्गत सुदूर विकासखण्ड जौनपूर, प्रतापनगर, घनसाली, कीर्तिनगर सहित अनेक स्थानों से आये फरयादियों के अलावा आषा कार्य कत्रियों एवं राजस्व विभाग के कर्मचारियों के अलावा पेयजल, षिक्षा, सिंचाई तथा सड़क के मामले भी रखे गये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के स्वागत में पहाडी शैली में बने मकान का स्मृति चिन्ह जिला प्रषासन एवं स्थानीय विधायक द्वारा भेंट किया गया।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष सोना सजवाण, विधायक टिहरी धन सिंह नेगी, घनसाली शक्ति लाल शाह, देवप्रयाग विनोद कण्डारी, प्रतापनगर विजय पंवार, धनोल्टी प्रितम सिंह पंवार, भाजपा जिलाध्यक्ष संजय नेगी, पूर्व विधायक धनोल्टी महावीर रांगड, महामंत्री भाजपा दिनेष डोभाल के अलावा जिलाधिकारी सोनिका, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बिमला गुंजियाल, सीडीओ आषीष भटगाई के अलाव क्षेत्र प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधानों के अलावा जिला स्तरीय अधिकारी व भारी संख्या में फरियादी/जनता उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गवर्नमेंट डिग्री/पीजी कॉलेज के 70 प्राध्यापक श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय में समायोजित

देहरादून। आखिरकार सरकार ने गवर्नमेंट डिग्री/ पीजी कॉलेज