2022 के लिए कांग्रेस का मास्टर स्ट्रोक

2022 के लिए कांग्रेस का मास्टर स्ट्रोक

- in राजनीति
0

देहरादून। 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने मास्टर स्ट्रोक चल दिया है। हर वर्ग को साथ लेकर चलने और चलते हुए दिखने की कांग्रेस की स्ट्रेटजी से चुनाव में लाभ होना तय है।

नेता प्रतिपक्ष तय करने में बेशक कांग्रेस ने जरूरत से ज्यादा समय लगाया वो भी तब जब अब विधानसभा चुनाव के लिए बहुत कम समय रह गया है। बहरहाल, अब जो निर्णय कांग्रेस हाईकमान ने उत्तराखंड में पार्टी संगठन के लिए लिया है वो किसी मास्टर स्ट्रोक से कम नहीं है।

तमाम गुटों को कई बार बिठाकर चर्चा करने के बाद पार्टी ने दो बार के विधायक रहे स्वच्छ छवि और बेहद सुलझे हुए नेता गणेश गोदियाल को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर पार्टी ने बड़ा संदेश देने का प्रयास किया है। दिग्गज नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को चुनाव संचालन समिति का मुखिया बनाया गया है। ताकि उनकी राजनीतिक सूझबूझ का लाभ पार्टी को मिल सके।

चार कार्यकारी अध्यक्ष बनाकर पार्टी में पहाड़, मैदान, समेत तमाम जातिय समीकरणों को भी अच्छे से साधने का प्रयास किया है। इसका लाभ पार्टी को चुनाव में मिलना तय है। इस बेहतर कंबिनेशन का नई टीम कैसे उपयोग करती है ये देखने वाली बात होगी।

अब इस नई टीम पर होगा कि वो सत्ता विरोधी लहर को कैसे भुनाती है। कैसे सरकार से नाराज वर्गों को अपने पक्ष में करती है। कैसे कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार कर पार्टी की मजबूती के लिए काम करते हैं। बहरहाल, नई टीम के गठन को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता भी खासी खुश हैं। ये कांग्रेस के लिए प्लस प्वाइंट साबित होगा।

राजनीति के जानकार भी मान रहे हैं कि कांग्रेस संगठन ने 2022 के लिए अच्छा कंबिनेशन तैयार किया है। इस कंबिनेशन का बेहतर उपयोग हुआ तो पार्टी को चुनाव में लाभ मिलना तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गवर्नमेंट डिग्री/पीजी कॉलेज के 70 प्राध्यापक श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय में समायोजित

देहरादून। आखिरकार सरकार ने गवर्नमेंट डिग्री/ पीजी कॉलेज