डा. केदारखंडी के काव्य संग्रह मूक वेदना का कालजयी कथानक का विमोचन

डा. केदारखंडी के काव्य संग्रह मूक वेदना का कालजयी कथानक का विमोचन

- in साहित्य
1

श्रीनगर ( गढ़वाल)। डा. चरण सिंह केदारखंडी का काव्य संग्रह मूक वेदना का कालजयी कथानक का यहां भव्य कार्यक्रम में विमोचन किया गया।

हिमालय साहित्य एवं कला परिषद चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में आयोजित भव्य कार्यक्रम में मूक वेदना का कालजयी कथानक का विमोचन किया गया। विमोचन कार्यक्रम का हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के अंग्रेजी विभाग की विभागाध्यक्ष प्रोफेसर सुरेखा डंगवाल, विशिष्ट अतिथि शिक्षाधिकारी राकेश जुगराण, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रदीप तिवाड़ी ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

इस मौक पर नीरज नैथानी ने डा. चरण सिंह केदारखंडी का परिचय कराया। देवेंद्र उनियाल और जयकृष्ण पैन्यूली ने काव्य संग्रह मूक वेदना का कालजयी कथानक पर प्रकाश डाला। मुख्य अतिथि ने काव्य संग्रह की विषय वस्तु की सराहना की।

विशिष्ट अतिथि राकेश जुगराण ने काव्य संग्रह की बारीकियों पर विस्तार से प्रकाश डाला और इसको बेहतर बनाने में किए गए प्रयासां की सराहना की। डा. चरण सिंह केदारखंडी ने हिमालय साहित्य एवं कला परिषद का आभार प्रकट किया।

इस मौके पर हिमालय साहित्य एवं कला परिषद ने हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा के टॉपर छात्र अरविंद सिंह को हरिशरण काला समृति प्रतिभा छात्र वृत्ति प्रदान की। इस मौके पर प्रो. उमा मैठाणी, प्रो. आरपी गैरोला, प्रो.प्रकाश नौटियाल, डा. प्रकाश चमोली, नीरज नैथानी, महेश गिरी, आरती पुंडीर , माधुरी नैथानी, अरविंद नेगी, जेके पैन्यूली, वीरेंद्र रतूड़ी, हेमचंद ममगाईं आदि मौजूद थे।

1 Comment

  1. Dear Sir
    Greetings.
    How to send news for publish in teerth chetna.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय को भाया ऋषिकेश नगर निगम का प्रोजेक्ट

ऋषिकेश। केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय को ऋषिकेश नगर