पूर्व प्रधान ने विधायक के खिलाफ खोला मोर्चा, लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

पूर्व प्रधान ने विधायक के खिलाफ खोला मोर्चा, लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

- in ऋषिकेश
0

ऋषिकेश। गढ़ी मयचक के पूर्व प्रधान ने क्षेत्रीय विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। आरोप लगाया कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाने पर उन्हें प्रताड़ित और ग्राम पंचायत की उपेक्षा की जा रही है।

लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में गढ़ी मयचक के पूर्व प्रधान जयेंद्र रावत ने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने क्षेत्रीय विधायक पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। कहा कि 2011-12 में ग्वेला और बंगाला नालों में बाढ़ सुरक्षा कार्यों में हो रहे गलत कार्यों पर आवाज उठाने पर उन्हें विभिन्न तरह से प्रताड़ित किया जा रहा है।

उन्होंने क्षेत्रीय विधायक पर निधि में घालमेल का आरोप लगाया। कहा कि 30-30 प्रतिशत तक कमिशन मांगा जा रहा है। लोग मिस्टर थर्टी परसेंट तक बोलने लगे हैं। गढ़ी मयचक की विधायक 13 सालों से उपेक्षा कर रहे हैं। दावा कर रहे हैं कि उन्होंने क्षेत्र की सूरत बदल दी है।

सच ये है कि विधायक ने क्षेत्र में कुछ काम नहीं कराया। क्षेत्र की सड़कें इसका प्रमाण हैं। जो काम विधायक निधि से कराए गए वो तीन-छह माह में ही दरक जाते हैं। इसकी वजह क्या है आम लोग अच्छे से समझते हैं। आरोप लगाया कि जब लोग उनके पास समस्या लेकर जाते हैं तो वो सीधे बोलते हैं कि आपने मुझे वोट नहीं दिया।

उन्होंने नगर निगम की मेयर श्रीमती अनीता ममगाईं और नरेंद्रनगर के विधायक सुबोध उनियाल का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों क्षेत्र के लिए बगैर किसी भेदभाव के काम करते हैं। उक्त दोनों के काम दिख रहे हैं। आखिर ऋषिकेश के ग्रामीण क्षेत्र में विधायक के काम क्यों नहीं दिख रहे हैं।

इस मौके पर कांग्रेस के नगराध्यक्ष शिवमोहन मिश्रा, जयेंद्र रमोला, मधु जोशी, निगम पार्षद एडवोकेट राकेश मियां, मनीष शर्मा आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तराखंड में कोरोना से हुई मौत का आंकड़ा सौ के पार, आज 278 पॉजिटिव

देहरादून। राज्य में कोरोना से हुई मौत का