हिंदी के गौरव को पहचानेंः तीरथ सिंह रावत

हिंदी के गौरव को पहचानेंः तीरथ सिंह रावत

- in ऋषिकेश
0

मुनिकीरेती। हिंदी हिंदुस्तान की गौरव है, इसको पहचाने। बोलचाल और कामकाज में अधिक से अधिक इसका उपयोग करें और इसके लिए माहौल बनाएं।

ये कहना है प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत का। रावत मुनिकीरेती प्रेस क्लब द्वारा हिंदी दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने लोगों से अपेक्षा की कि वे हिंदी भाषा का ज्यादा से ज्यादा लिखने व बोलने मैं प्रयोग करें।

कहा कि जिस राष्ट्र में एक भाषा का प्रयोग किया जाता है वह राष्ट्र प्रगति के पथ पर अग्रसर होते हैं। अन्य वक्ताओं में मधुबन आश्रम के परमादेश स्वामी परमानंद महाराज पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष शिव मूर्ति कंडवाल पुष्पा ध्यानी अनुष्का शर्मा उषा रावत आदि ने अपने विचार हिंदी दिवस पर अपने विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता रमा बल्लभ भट्ट ने कहा कि हिंदी को बढ़ावा देने का एकमात्र जरिया यह है कि प्रत्येक व्यक्ति अपने हस्ताक्षर हिंदी में करें और हिंदी भाषा को अपने सम्मान और गौरव से जुड़े तभी हिंदी का विकास संभव है।

प्रेस क्लब मुनी की रेती द्वारा हिंदी दिवस के अवसर पर एक शिविर का आयोजन किया गया जिसमें जीरो बैलेंस के खाते खोले गए और आयुष्मान कार्ड बनाए गए, कार्यक्रम का संचालन सुरेश चंद्र सिंह चौहान ने किया व कार्यक्रम की अध्यक्षता रमा बल्लभ भट्ट की सकार्यक्रम के संयोजक नवीन चंद्र व सह संयोजक आशीष कुकरेती थे।

इस अवसर पर प्रेस क्लब उपाध्यक्ष संजय बडोला सुदीप कपरूवान मैथिली चंद्रा और इंदिरा आर्य भगवान सिंह रावत अर्चित पांडे प्रभु लाल बिजलवान सुनील आर्य मोनिका तोपवाल सीमा बिजलवान विश्वेश्वरी उनियाल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गवर्नमेंट डिग्री/पीजी कॉलेज के 70 प्राध्यापक श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय में समायोजित

देहरादून। आखिरकार सरकार ने गवर्नमेंट डिग्री/ पीजी कॉलेज