आईएमए और एनडीए में चयनित राज्य के युवा सम्मानित

आईएमए और एनडीए में चयनित राज्य के युवा सम्मानित

देहरादून। प्रदेश सरकार ने भारतीय सैन्य अकादमी व राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में चयनित उत्तराखंड के 140 युवाओं को 50-50 रूपये प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री आवास पर प्रदेश के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, देश की रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण और थल सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने संयुक्त रूप से 140 होनहार युवाओं को सम्मानित किया। इसमें वर्ष 2014 से 18 तक एनडीए तथा आईएमए में चयनित राज्य के 140 युवा शामिल थे। इस अवसर पर विक्टोरिया क्रॉस पदक प्राप्त स्व0 गब्बर सिंह नेगी, स्व0 दरबान सिंह नेगी, स्व0 वीरचन्द्र सिंह गढ़वाली, पूर्व सेना प्रमुख स्व0 वी.सी. जोशी एवं स्व0 श्री बाबा जसवंत सिंह के परिजनों के साथ ही अपने पति की शहादत के पश्चात सेना में कमीशन प्राप्त करने वाली कै0 प्रिया शर्मा सेमवाल, संगीता मल्ल, फलाईंग ऑफिसर अनुपमा जोशी व नेवल ऑफिसर वर्तिका जोशी की मॉ डॉ0 अल्पना जोशी को भी सम्मानित किया गया।

इस मौके पी सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा मुख्यमंत्री निवास में सैनिकों के सम्मान समारोह के आयोजन होने से वह गौरान्वित अनुभव कर रहे है। सरकार हर कदम पर सैनिक तथा उनके परिवारों के साथ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रक्षा मंत्री जैसे अहम मंत्रालय की जिम्मेदारी श्रीमती निर्मला सीतारमण को दी इससे यह संदेश गया कि देश अपनी बेटियों पर भरोसा करता है, बेटियाँ सब कुछ कर सकती है।

रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कहा कि उत्तराखंड देवभूमि के साथ ही वीरभूमि भी है। देश के 21 परमवीर चक्र विजेताओं में उत्तराखंड के वीर सपूत भी शामिल है। यहां विक्टोरिया क्रॉस प्राप्त करने वाले वीर सैनिक भी है तथा तीन पीढ़ियों तक सेना में सेवाएं देने वाले परिवार भी है। उत्तराखंड के हर परिवार से एक सदस्य सेना में है। भारत की रक्षा में उत्तराखंड का महत्वपूर्ण योगदान है।

आईएमए व एनडीए के चयनित कैडेटस को सम्बोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि आने वाले समय में आप सभी एक अत्याधुनिक सेना का हिस्सा बनने जा रहे है। आर्मी, नेवी तथा एअर फोर्स को आधुनिक बनाने के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बहुत सी नई पहल की जा रही है। सेना की तैयारी के सम्बन्ध में रक्षा मंत्री श्रीमती सीतारमण ने कहा कि सेना की तैयारी में जरा भी कही कोई कमी नही है। सेना हेतु राज्य के युवाओं को प्रशिक्षण देने वाले निम के निदेशक कर्नल अजय कोठियाल की प्रंशसा करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि कर्नल कोठियाल जैसे सेल्फ मोटिवेटेड लोग सभी को प्रेरणा देते है। रक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार सैनिक तथा उनके परिवारों को हर सहायता देने हेतु सदैव तत्पर है। उन्होंने उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में आधुनिक सुविधाओं युक्त कमांड हॉस्पिटल स्थापित करने की बात कही।
इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा0 धन सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड का सेना में 18 प्रतिशत योगदान है। देश की सुरक्षा में राज्य को महत्वपूर्ण योगदान है। राज्य सरकार सैनिक व उनके परिवार के कल्याण हेतु प्रतिबद्ध है। 3 लाख से कम आय वाले परिवार के 50 बच्चों को एनडीए तथा सीडीएस की निशुल्क कोचिंग सरकार द्वारा दी जायेगी। उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य है जो शहीदों के परिजनों को नौकरी प्रदान करता है।
कार्यक्रम को थल सेनाध्यक्ष अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, सांसद श्रीमती माला राज्य लक्ष्मी शाह व विधायक श्री गणेश जोशी ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय भटट, अन्य गणमान्य तथा सम्मानित होने वाले छात्रो के अभिभावक, एनसीसी केडेटस बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 हजार के पार

देहरादून। सोमवार को कोरोना के 389 पॉजिटिव मामलों