स्कूल/कॉलेजों के प्रिंसिपल क्यों कर रहे जिद

स्कूल/कॉलेजों के प्रिंसिपल क्यों कर रहे जिद

- in देहरादून
1

देहरादून। स्कूल/कॉलेजों में शिक्षकों की उपस्थिति पर स्थिति स्पष्ट न होने से ऊहापोह की स्थिति बनी है। इस पर प्रिंसिपलों के फरमान मुश्किलें पैदा कर रहे हैं।

वैश्विक महामारी कोरोना से पैदा हुए हालातों के चलते अभी राज्य के स्कूल/कॉलेज नहीं खुलेंगे। यानि स्कूल में कक्षाएं नहीं लगेंगी। शिक्षक ऑनलाइन ही पढ़ाएंगे। मगर, अब बंद स्कूल/कॉलेजों में शिक्षकों को हाजिरी लगाने के लिए बुलाने की प्रिंसिपलों की जिद से ऊहापोह की स्थिति बन गई है।

स्कूल से लेकर हायर एजुकेशन तक ऐसी स्थिति देखने को मिल रही हैं। हॉयर एजुकेशन में प्रिंसिपलों की मुख्यालय में उपस्थिति के शासन स्तर से निर्देश हैं। प्रिंसिपल उक्त निर्देशों के क्रम में प्रिंसिपल कॉलेज मुख्यालयों में हैं।

अब शिक्षकों को हाजिरी लगाने के लिए स्कूल/कॉलेज बुलाने से गेदरिंग होना तय है। यानि जोखिम बढ़ेगा। यही नहीं शिक्षक रोज स्कूल में हाजिरी लगाएंगे तो ऑनलाइन पढ़ाई का भी प्रभावित होना तय है। इस बात को शिक्षक स्वीकारते भी हैं।

स्कूल/कॉलेजों के शिक्षक इस पर स्थिति स्पष्ट चाहते हैं। इसी प्रकार की स्थिति निजी स्कूलों में भी देखने और सुनने को मिल रही है।

1 Comment

  1. आदेश मुख्य शिक्षा अधिकारी जैसे उच्च स्तर से हो तो नीचे का अधिकारी चाहे वह खंड शिक्षा अधिकारी हो या प्रधानाचार्य माननीय के लिए बाध्य होगा ही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी में कोरोना विस्फोट, एक दिन में 66 कोरोना पॉजिटिव

देहरादून। राज्य के उत्तरकाशी जिले में कोरोना का