जिन कार्यों की घोषणा होगी उन्हें पूरा किया जाएगाःधामी

जिन कार्यों की घोषणा होगी उन्हें पूरा किया जाएगाःधामी

- in चम्पावत
0

चम्पावत। जिन कार्यों की घोषणा की जाएग उन्हें हर काल में पूरा किया जाएगा। इसके लिए अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिए गए हैं।

ये कहना है प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का। धामी सोमवार को चम्पावत के दौरे पर थे। यहां उन्होंने अमोड़ी में निर्माणाधीन डिग्री कॉलेज का निरीक्षण किया। यहां पहुंचने पर छात्रों ने परंपरागत तरीके से उनका जोरदार स्वागत किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि जिन कार्यों की घोषणा की जाएगी उन्हें हर हाल पूरा किया जाएगा। कहा कि जन अपेक्षाओं का सम्मान करते हुए वे राज्य की सेवा में पूरे समर्पण एवं लगन के साथ हमेशा तत्पर रहेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के विभिन्न विभागों में लगभग 22 से 24 हजार रिक्त पदों और बैकलॉग की रिक्तियों पर भर्ती करने का निर्णय लिया है। सिर्फ सरकारी नौकरी ही नहीं हम युवाओं को स्वरोजगार की योजनाओं से जोड़ने पर ध्यान दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि स्वरोजगार कार्यक्रमों के तहत लगभग 1 लाख लोगों को रोजगार से जोड़ा जाएगा, उत्तराखण्ड के युवा को रोजगार मांगने वाला नहीं बल्कि रोजगार देने वाला बनाएंगे। उन्होंने कहा कि लोक सेवा आयोग, संघ लोक सेवा आयोग, एन.डी.ए, सीडीएस आदि प्रतियोगिता की प्रारम्भिक परीक्षा पास करने वाले युवाओं को मेन परीक्षा की तैयारी के लिये 50 हजार की धनराशि प्रदान किये जाने का निर्णय किया गया है।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत 12 आदर्श महाविद्यालयों में से एक उत्तराखण्ड के देवीधुरा में बनकर तैयार हो चुका है। कोरोना योद्धाओं की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने 205 करोड़ का पैकेज कोरोना योद्धाओं के लिए जारी किया है।

उन्होंने वात्सल्य योजना के बारे मे भी बताया कि कोरोना काल में निराश्रित हुए बच्चों को अब सरकार प्रतिमाह 3000 हजार रुपये उनके भरण पोषण के लिए देगी। कोरोना की सम्भावित तीसरी लहर को देखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की गई हैं। उन्होंने लोगों से कोरोना के प्रति जागरूक रहने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि भारतनेट से गाँव गाँव तक इंटरनेट की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी।

इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत, सांसद अजय टम्टा तथा विधायक कैलाश गहतोड़ी जिलाधिकारी विनीत तोमर, पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह, उच्च शिक्षा निदेशक प्रो. पीके पाठक, मुख्य विकास अधिकारी राजेंद्र सिंह रावत, एसडीएम हिमांशु कफल्टिया आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गवर्नमेंट डिग्री/पीजी कॉलेज के 70 प्राध्यापक श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय में समायोजित

देहरादून। आखिरकार सरकार ने गवर्नमेंट डिग्री/ पीजी कॉलेज