एक था ऑटोनोमस कॉलेजः छीन गया रसूख और देखते रहे लोग

एक था ऑटोनोमस कॉलेजः छीन गया रसूख और देखते रहे लोग

- in ऋषिकेश
0

ऋषिकेश। तीर्थनगरी ऋषिकेश के साथ व्यापक पहचान जोड़ने वाली पहचान छीन गई और लोग देखते रहे। बात-बात पर सड़क पर उतरने वालों ने इस मामले में राजनीतिक कंबल ओड़ दिया। इस कंबल के भीतर से सब कुछ ऑल इज वेल महसूस हो रहा है और दिख भी रहा है।

राज्य गठन के बाद हायर एजुकेशन के क्षेत्र में गवर्नमेंट पीजी कॉलेज ऋषिकेश ने बड़ी उपलब्धि हासिल की थी। उपलब्धि थी कॉलेज को यूजीसी से मिली ऑटोनोमी। ऑटोनोमस कॉलेज ने ऋषिकेश ही नहीं राज्य को बड़ी पहचान दिलाई। मगर, अब ऑटोनोमस कॉलेज नहीं रहा।

ऑटोनोमस कॉलेज बनाने में रात दिन एक करने वाले प्राध्यापक हैरान परेशान हैं। ऑटोनोमस जैसी उपलब्धि को जानने वाले शिक्षाविद सरकार के निर्णय से हतप्रभ हैं। ऑटोनोमस कॉलेज के छात्र के रूप में गर्व करने वाले युवा स्वयं को ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

हैरान करने वाली बात ये भी है कि बात-बात सड़कों पर उतरने वाले शहर से छीने इस बड़े रसूख पर चुप्पी साधे हुए हैं। क्या पक्ष और क्या विपक्ष सबका रवैया एक जैसा है। हर किसी ने अपने अपने छाप का राजनीतिक कंबल ओढ़ लिया है। इस कंबल के भीतर से सब कुछ ऑल इज वेल महसूस होता है और दिखने भी लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जन अपेक्षाओं के मुताबिक काम कर रही त्रिवेंद्र सरकार: सुरेश जोशी

देहरादून। प्रदेश की त्रिवेंद्र सरकार जन अपेक्षाओं के