कोरोना के सामाजिक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव पर यूसर्क में राष्ट्रीय वेबीनार

कोरोना के सामाजिक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव पर यूसर्क में राष्ट्रीय वेबीनार

- in देहरादून
0

देहरादून। उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र, यूसर्क के बैनर तले कोरोना के सामाजिक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव विषय पर आयोजित राष्ट्रीय वेबीनार में विशेषज्ञों ने विभिन्न तथ्यों पर ज्ञानप्रद चर्चा की।

गुरूवार वेबीनार के शुभारंभ परयूसर्क के निदेशक प्रो. अनिता रावत ने मुख्य अतिथि, विशेषज्ञ और प्रतिभागियों का स्वागत एवं आभार प्रकट किया। साथ ही महिलाओं एवं बच्चों पर कोविड-19 के प्रभावों को दृष्टिगत कार्ययोजना बनाने पर प्रकाश डाला।

इसके अलावा 2020 में कोविड की दृष्टि से समाज में नई संभावनाएं और चुनौतियों पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि वेबीनार में विशेषज्ञों के सुझावों का दस्तावेज तैयार किया जाएगा। ताकि इसका उपयोग समाज की बेहतरी में किया जा सकें।

वेबीनार में उत्तराखंड बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष उषा नेगी बतौर मुख्य अतिथि थी। उन्होंने कोविड-19 के सकारात्मक प्रभावों पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि महिलाएं अच्छी प्रबंधक होती हैं। कोविड-19 की चुनौतियों का उन्होंने बेहतर तरीके सामना किया। उन्होंने जोर देकर कहा कि जीवन में हर समस्या को सकारात्मक रूप से लेना चाहिए।

तकनीकी सत्र में वरिष्ठ मनोचिकित्सक डा. वीना कृष्णन ने मानसिक स्वास्थ्य में विकार होने के प्रारंभिक लक्षणों, नियंत्रण के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बताया कि किस प्रकार से विकास हावी होते हैं और इन्हें कैसे मैनेज किया जाना चाहिए।

डा. शर्मिला ठाकुर ने कोविड-19 के दौरान वित्तीय एवं घरेलू कार्यों के बोझ से महिलाएं प्रभावित हुए हैं। उन्होंने इससे निकलने के तमाम सुझाव प्रस्तुत किए। साथ ही आत्मनिर्भर बनने के टिप्स भी दिए।

अमन संस्था अल्मोड़ा की नीलिमा ने कहा कि कोविड-19 की वजह से महिलाओं को तमाम समस्याएं से दो-चार होना पड़ा। घरेलु कार्य, बच्चों की शिक्षा, खान-पान, स्वास्थ्य संबंधी व घरलू हिंसा महिलाओं के लिए बड़ी चुनौती रही।

वेबीनार के आखिरी सत्र में प्रतिभागियों द्वारा रखी गए तमाम सवालों के विशेषज्ञों ने समाधान के तौर पर जवाब दिए। इस मौके पर कार्यक्रम समन्वयक डा. मंजू सुंदरियाल, डा. ओपी नौटियाल, डा. भवतोष शर्मा, डा. राजेंद्र राणा, डा. विपिन सती, उमेश चंद्र, राजदीप जंग, ओम जोशी, शिवानी पोखरियाल, रमेश रावत, हरीश ममगाईं आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना मीटर 11 की मौत, 355 नए मामले और 317 ठीक हुए

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में 355