पीजी कॉलेज उत्तरकाशी में विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर बेबिनार

पीजी कॉलेज उत्तरकाशी में विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर बेबिनार

उत्तरकाशी। राम चन्द्र उनियाल गवर्नमेंट पीजी कॉलेज, उत्तरकाशी में विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर वेबिनार आयोजित किया गया। इसमें तम्बाकू के दुष्प्रभावों पर चर्चा की गई। साथ ही तम्बाकू के दुष्प्रभावों से आम जन को जागरूक करने का संकल्प लिया गया।

कॉलेज तम्बाकू निषेध प्रकोष्ठ के बैनर तले जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सौजन्य से तम्बाकू सेवन की आदत – करे कोरोना एवं अन्य रोगों का स्वागत“ विषय पर आयोजित वेबिनार का कॉलेज की प्रिंसिपल प्रो. सविता गैरोला ने शुभारंभ किया।

प्रिंसिपल प्रो. गैरोला ने तम्बाकू सेवन से होने वाले विभिन्न स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर प्रकाश डाला। विश्व तंबाकू निषेध दिवस के इस वर्ष की थीम कमिट टू क्वीट के अंतर्गत प्राचार्य प्रतिभागियों को तम्बाकू सेवन से दूर रहने संबधी शपथ भी दिलाई।

इस अवसर पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री माननीय श्री तीरथ सिंह रावत जी द्वारा विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर तम्बाकू मुक्त समाज हेतु युवाओं से किये गए आह्वान के संबंधित वीडियो का भी प्रसारण किया गया।

इसके साथ ही वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. एसडी सकलानी एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के उप मुख्य चिकित्साधिकारी डा बीके विस्वास द्वारा भी वीडियो क्लिप के द्वारा भी तम्बाकू सेवन के दुष्प्रभावों से युवाओं को अवगत कराया गया ।

कार्यक्रम में बीएससी प्रथम वर्ष के अभिषेक बंथवान, स्वाती नौटियाल, बीएससी द्वितीय वर्ष की गोल्डी प्रजापति एवं एमएससी सेमेस्टर प्रथम की कृष्णा कैंतुरा ने प्रभावशाली तरीके तम्बाकू निषेध पर अपने विचार प्रस्तुत किये ।

वेबिनार के मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए महाविद्यालय तंबाकू/ड्रग निषेध समिति के संयोजक एवं संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ. डीव डीव पैन्यूली जी ने तम्बाकू सेवन से जुड़े वैज्ञानिक, वैधानिक, सामाजिक बिंदुओं पर अपना व्याख्यान प्रस्तुत किया ।

जिला सलाहकार /संयोजक ,स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ज्ञानेन्द्र पँवार ने जिला अस्पताल और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा तम्बाकू नियंत्रण से संबंधित किये जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी।

तम्बाकू निषेध से संबंधित विभिन्न नियमों पर चर्चा करने के साथ ही उन्होंने जिला नशा उन्मूलन केंद्र की सुविधाओं के बारे में भी प्रतिभागियों को बताया । वनस्पति विज्ञान विभागाध्यक्ष डॉ. महेंद्र परमार द्वारा पावर पॉइंट प्रस्तुतीकरण द्वारा विभिन्न नशे से जुड़ी पादप प्रजातियों एवं इनके सेवन से बचने और स्वस्थ राष्ट्र के निर्माण में सहायक बनने हेतु तम्बाकू सेवन से दूर रहने हेतु प्रेरित किया गया ।

कार्यक्रम की समाप्ति पर महाविद्यालय की वरिष्ठ प्राध्यापिका प्रो. वसन्तिका कश्यप ने तम्बाकू निषेध पर अपने विचार रखते हुए सभी का धन्यवाद ज्ञापन दिया ।
कार्यक्रम में महाविद्यालय तम्बाकू निषेध प्रकोष्ठ के सदस्य डॉ. ऊषा रानी नेगी, डॉ. कमल बिष्ट, डॉ. मनोज फोन्दनी, वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. नंदी गड़िया, डॉ. दिवाकर बौद्ध, डॉ. जयलक्ष्मी रावत, डॉ. एमपी तिवारी, डॉ. रुचि कुलश्रेष्ठ, डॉ. वीर राघव खंडूड़ी, डॉ. विश्वनाथ राणा, डॉ. रिचा बधानी, डॉ. आराधना चौहान, डॉ. सृष्टि, डॉ. अर्जुन, डॉ. अनामिका, डॉ. नेपाल सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना अपडेटः 228 स्वस्थ हुए, 128 नए मामले और 02 की मौत

देहरादून। राज्य पिछले 24 घंटे में 228 लोग