पांचवीं और आठवीं कक्षा में समाप्त होगा नो डिटेंशन

पांचवीं और आठवीं कक्षा में समाप्त होगा नो डिटेंशन

- in देहरादून
0

देहरादून। पांचवीं और आठवीं में नो डिटेंशन (फेल न करने) समाप्त होने जा रहा है। कैबिनेट ने इस आशय के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में 10 प्रस्तावों पर मुहर लगी। इसमें उत्तराखंड निःशुल्क बाल शिक्षा अधिकारी नियमावली में संशोधन शामिल है। इसके तहत अब कक्षा पांचवीं आठवीं के छात्रों को नो डिटेंशन (फेल न करने) की बाध्यता समाप्त हो जाएगी।

इसके बदले छात्रों उपचरात्मक शिक्षण देकर पुनः परीक्षा का मौका दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि नो डिटेंशन से देश प्राथमिक शिक्षा चौपट हो गई है। बहरहाल, इसके अलावा एमडीडीए में 78 पदों की स्वीकृति, विधिव सेवा प्राधिकरण में आंशिक संशोधन, उत्तराखंड उच्च शिक्षा परिषद के गठन को हरी झंडी, नैनीताल जिले में बंद हो चुकी एचएमटी फैक्टी की जमीन संबंधित विभागों को लौटाने, राज्य विश्वविद्यालय विधेयक 2020 के अध्ययन हेतु कैबिनेट की सबकमेटी का गठन।

बजट सत्र तीन से छह मार्च तक गैरसैंण में आयोजित किया जाएगा। हरिद्वार यूनिवर्सिटी ऑफ इंजीनियरिंग टेक्नालॉजी विश्वविद्यालय पर कैबिनेट ने मुहर लगाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तराखंड में कोराना का कहर, 24 घंटे में 2078 नए मामले

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना कहर बनकर टूट रहा