उत्तराखंड कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर

उत्तराखंड कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर

- in राजनीति
0

हल्द्वानी। उत्तराखंड कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर पहुंच गई है। परिणाम तीन राज्यों की जीत का टॉनिक यहां काम नहीं कर पा रहा है।

छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस को मिली शानदार जीत से पार्टी हाईकमान 2019 के आम चुनाव को लेकर अब काफी कुछ उम्मीद लगाने लगा है। कारण तीन राज्यों में मिली जीत पार्टी के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं है।

इस जीत से सभी राज्यों के कांग्रेसी उत्साहित हैं। उत्साह उत्तराखंड के कांग्रेसियों में भी दिखा। मगर, इसका असर पार्टी के आला नेताओं व्याप्त गुटबाजी से फीका सा लग रहा है। पार्टी के राज्य नेतृत्व में शीर्ष में जैसी गुटबाजी चल रही है उससे 2019 को लेकर कार्यकर्ता चिंता व्यक्त करने लगे हैं।

आलम ये है कि पार्टी के आला नेता अब दूसरे से खुलेआम दो-दो हाथ करने को उतारू हैं। पार्टी के प्रदेश नेतृत्व के निर्णय को दूसरे बड़े नेता खुलेआम चुनौती दे रहे हैं। इससे पार्टी के भीतर अनुशासनहीनता साफ दिखने लगी है।

पार्टी के दिग्गज नेता भले ही कुछ भी दावा कर लें। सच ये है कि बड़े नेताओं द्वारा गुटबाजी को दिया जा रहा प्रश्रय पार्टी के लिए आने वाले समय में मुश्किल खड़ी कर सकता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

स्टिंग को लेकर छलका पूर्व सीएम हरीश रावत का दर्द

देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता