गंगा और अन्य जल राशियों के संरक्षण को आगे आएं युवाः विधायक

गंगा और अन्य जल राशियों के संरक्षण को आगे आएं युवाः विधायक

- in उत्तरकाशी
0

उत्तरकाशी। गंगा समेत अन्य जल राशियों के संरक्षण के लिए युवा आगे आएं। इसके लिए समाज को तैयार करें। ताकि जलराशियां सदानीरा बनी रह सकें।

ये कहना है कि यमुनोत्री के विधायक केदार सिंह रावत का। विधायक रावत गवर्नमेंट पीजी कॉलेज, उत्तरकाशी में स्वच्छता पखवाड़े के तहत आयोजित गोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

कहा कि केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा गंगा संरक्षण एवं गंगा स्वच्छता हेतु किये जा रहे प्रयासों को बताते हुए इसकी वर्तमान समय में प्रासंगकिता को समझाया । नमामि गंगे मिशन के तहत कॉलेज द्वारा किये गए प्रयासों की सराहना करने के साथ-2 छात्र छात्राओं को निरंतर गँगा संरक्षण हेतु प्रयासरत रहने हेतु आह्वान किया।

कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में वनस्पति विज्ञान विभागाध्यक्ष डॉ महेंद्र परमार ने गंगा की वर्तमान दशा एवं इसकी स्वच्छता के लिए जा रहे विभिन्न प्रयासों को बताया । इसी क्रम में पर्यावरणविद श्री प्रताप सिंह पोखरियाल, श्रीमती शान्ति ठाकुर एवं भाजपा जिलाध्यक्ष श्री रमेश ठाकुर ने युवाओं को ईमानदारी से दृढ़ प्रतिज्ञ होकर पर्यावरण संरक्षण गंगा स्वच्छता हेतु प्रोत्साहित किया । कार्यक्रम में वरिष्ठ प्राध्यापक संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ डी डी पैन्यूली एवं हिन्दी के प्राध्यापक डॉ प्रवीण भट्ट ने नमामि गंगे परियोजना और इसकी उपयोगिता पर अपने विचार रखे ।

इससे पूर्व कॉलेज की प्रिंसिपल प्रो. सविता गैरोला ने सभी अतिथियों का पुष्पगुच्छ एवं शॉल भेंट कर स्वागत किया। साथ ही नमामि गंगे के तहत कॉलेज में जल स्रोतों की स्वच्छता को हो रहे प्रयासों की जानकारी दी।

इस अवसर पर महाविद्यालय में सम्पन्न हुई विभिन्न प्रतियोगिताओं पोस्टर, निबंध, दौड़ के विजेताओं को मुख्य अतिथि द्वारा पुरिष्कृत किया गया । कार्यक्रम के अंत में नमामि गंगा समिति के संयोजक सुरेंद्र सिंह ने सभी अतिथियों, प्राध्यापकों, छात्र छात्राओं के सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद ज्ञापित किया । उपरोक्त सभी कार्यक्रमों का संचालन वाणिज्य संकायाध्यक्ष डॉ. दिवाकर बौद्ध ने किया ।

इस मौके पर डा. वसन्तिका कश्यप, डॉ. डी. डी. पैन्यली, डॉ. डी. पी. पांडेय, डॉ नंदी गड़िया, डॉ उषा नेगी, डॉ. बचन लाल, डॉ दिनेश सिंह, डॉ आकाश मिश्र, डॉ महेंद्र परमार, डॉ. कमल कुमार बिष्ट, डॉ एम. पी. तिवारी, डॉ मनोज, डॉ जय लक्ष्मी रावत, डॉ विश्वनाथ राणा, डॉ रुचि, डॉ सोनिया सैनी, डॉ मधु बहुगुणा, डॉ अरविंद रावत, डॉ महेंद्र राणा, डॉ आराधना, डॉ कैलाश आदि प्राध्यापक एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कोरोना अपडेटः 2757 नए मामले, 37 की मौत 802 स्वस्थ हुए

देहरादून। कोरोना संक्रमण राज्य के हेल्थ सिस्टम की